Video of the day

header ads

मस्जिद के इमाम की बीवी पर्दा न करे तो पीछे नमाज़ पढ़ना नाजायज़ पूरी खवर masjid ke imam ki beevee parda na kare to peechhe namaaz padhana naajaayaz pooree khavar

मस्जिद के इमाम की बीबी पर्दा न करे तो पीछे नमाज़ पढ़ना नाजायज़ पूरी खवर 



मस्जिद के इमाम की बीबी पर्दा न करे तो पीछे नमाज़ पढ़ना नाजायज़ पूरी खवर बरेली उलमाओं का कहना है की अगर किसी इमाम की बीवी पर्दा नहीं करती है | तो उस इमाम के पीछे नमाज़ पढ़ना नाजायज़ हैं 

यानि ऐसे इमाम को लोगो को नमाज़ पड़ने का अधिकार नहीं है | 

एक शख्स के सवाल के जवाब मैं ताजुशरिया मुफ़्ती अख्तर रजा खां उर्फ़ अजहरी मिया ने शरीयत की रोशनी मैं यह फैसला सुनाया हैं | 


दरसअल अला हजरत की वेबसाइट पर एक सख्स ने सवाल उठाया था की अगर किसी इमाम की बीवी नौकरी करती है और पर्दा नहीं करती है| और इमाम भी बीवी को पर्दा करने का हुक्म नहीं देता है तो किया ऐसे इमाम के पीछे नमाज़ पढ़ना सही है | तो उस का शरीयत के हिसाब से जवाब आया | 

इस पर शरीयत का किया हुक्म है 


जमात रजा मुफ़्ती ने कहा की यदि किसी इमाम की बीवी बे पर्दा घूमती है और इमाम अपनी बीबी को ऐसा करने से मन नहीं करता है तो शरीयत की रोशनी मैं वो गुनहगार है | मस्जिद मैं ऐसा इमाम बनाना बी गुनाह है | 


उस इमाम को सबसे पहले मस्जिद से निकाल देना चाहिए | अगर आप मस्जिद से नहीं निकल सकते है तो आप उस के पीछे नमाज़ न पढ़े 


मेरे मुस्लिम भाईओं ये पोस्ट हर एक मुस्लिम के पास पहुंचना चाहिए |